दांतों से सम्बन्धी रोगों का होमियोपैथी में है कारगर इलाज
(1) दांत दर्द में पानी से आराम मिलता है-काफिया 30 या पलसेटिला 30,एक एक बूंद तीन बार प्रतिदिन लेना चाहिए।
(2)दांत में गढ़ा के कारण दर्द- क्रियोजोट 30 एक एक बूंद तीन बार रोज लेना चाहिए। बहुत कारगर है।
(3) गर्भवती महिला को दांत में दर्द -पलसेटीला 30,सीपीया30, मोटे लोगों को कैल्केरिया कार्ब 30 एक एक बूंद तीन बार रोज लेना चाहिए
(4) मीठा खाने से दर्द-नेट्रम कार्ब 30 एक एक बूंद तीन बार रोज लेना चाहिए।
(5) दांत पर मैल -ईगल फोलियां 30, एसिड मयूर 30 एक बूंद तीन बार प्रतिदिन लेना चाहिए।
(6) दांतों से दूर्गंध -कैली कार्ब 30,बेप्टिसिया30,मर्क सोल30 एक बूंद तीन बार रोज लेना चाहिए।
(7)पायरिया-कैलेण्डूला30,मर्ककोर 30,कैलि कार्ब 30 एक एक बूंद तीन बार रोज लेना चाहिए।
(8)दांत से रक्त श्राव -मर्क सोल 30,मर्क कोर 30,क्रियाजोट30 एक एक बूंद तीन बार रोज लेना चाहिए।
(9)दांत से मसूढ़ा अलग हो जाना- कार्बोबेज 30,कैलि कार्ब 30, एक एक बूंद तीन बार रोज लेना चाहिए।
(10) दांत सड़ना -क्रियोजोट -30, थूजा 30,मर्क सोल 30,स्टैफिग्रिसिया 30, एक एक बूंद तीन बार रोज लेना चाहिए।
(10)खाने के समय गाल के अंदर कट-कट जाना-एसिड फास 30 एक एक बूंद सुबह शाम लेना चाहिए।
नोट -एक बीमारी में कई दवा दी गयी है परन्तु एक ही दवा लेने की आवश्यकता है, फायदा नहीं होने पर दूसरी दवा लेनी चाहिए।
कोई भी दवा चिकित्सक की सलाह से ही इस्तेमाल करें।
डॉ लक्ष्मी नारायण सिंह
होमियोपैथी अस्पताल
फतुहा, पटना, बिहार
मो ,9204590774

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here