विभाग बंटने के पहले हुई कैबिनेट की पहली बैठक नयी विधानसभा का 23 नवम्बर से होगा सत्रारंभ

पटना,17 नवम्बर : बिहार के मंत्रियों के बीच मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज  विभाग बांट दिया। उसके पहले कैबिनेट की बैठक की। नयी 17वीं विधानसभा की  23 नवम्बर से बैठक बुलाने का निर्णय लिया। 27 नवंबर तक विधानसभा सत्र चलेगा। नीतीश सरकार की पहली बैठक में ये फैसला लिया गया है। 25 को विधानसभा अध्यक्ष का चुनाव होगा। 26 को राज्यपाल का अभिभाषण होगा । 27 को अभिभाषण पर वाद-विवाद और सरकार का उत्तर होगा।

सीएम ने सामान्य प्रशासन, मंत्रिमंडल, वेजिलेंस चुनाव और अन्य सभी विभाग जो किसी मंत्री को वितरित नहीं किए जाते हैं, अपने पास रखे हैं।

नीतीश कैबिनेट में भाजपा कोटा से  शामिल उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद को वित्त, पर्यावरण और वन, वाणिज्यिक कर, सूचना प्रौद्योगिकी, आपदा प्रबंधन और शहरी विकास विभाग मिला है.

भाजपा  कोटा से  कैबिनेट में  शामिल राज्य की पहली  महिला उपमुख्यमंत्री रेणु देवी को पंचायती राज, पिछड़ी जाति का उत्थान और ईबीसी कल्याण और उद्योग विभाग दिया गया है.

विजय चौधरी को ग्रामीण विकास और ग्रामीण कार्य विभाग , जल संसाधन, सूचना और जन सम्पर्क और संसदीय कार्य विभाग दिया गया है.

बिजेंद्र यादव को ऊर्जा, मद्निषेध, योजना, खाद्य और उपभोक्ता विभाग मिला है.

अशोक चौधरी भवन निर्माण विभाग के साथ-साथ अल्पसंख्यक कल्याण  का जिम्मा भी दिया गया है.

मेवा लाल चौधरी- शिक्षा

शीला कुमारी- परिवहन

संतोष मांझी- लघु सिंचाई, एससी/एसटी कल्याण

मुकेश सहनी- पशुपालन और मत्स्य पालन

मंगल पांडेय- स्वास्थ्य, पथ निर्माण , कला और संस्कृति

अमरेन्द्र सिंह- कृषि, सहकारिता , गन्ना विकास

राम प्रीत पासवान- पीएचईडी

जीवेश कुमार- पर्यटन, श्रम, खनन

राम सूरत- राजस्व, कानून

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here