पटना.07 नवम्बर। बिहार विधानसभा चुनाव के एग्जिट पोल में महागठबंधन की सरकार बनने के दावेदार के बीच केंद्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री अश्विनी चौबे ने एनडीए की जीत का दावा किया है। उन्होंने कहा कि एग्जिट पोल में वोकल जनता शामिल होती है लेकिन साइलेंट वोटर जो होते हैं वो विंनिग मूड डिसाइड करते हैं. उन्होंने यह भी कहा कि NDA की सरकार बनेगी तो मेरी निजी राय है कि अतिपड़ा या सवर्ण को कमान दी जाए. नतीजे से पहले ही अश्विनी चौबे ने इशारों में कहा. कि नीतीश कुमार तो दिल्ली में भी फिट हो जायेंगे हालांकि ये फैसला नीतीश कुमार को लेना है कि वो किसी को दायित्व देते हैं या नहीं.

भाकपा माले नेत्री कविता कृष्णन ने कहा है कि बिहार में चुनाव नहीं आंदोलन था. महागठबंधन की एकता जमीन तक दिखी. शुरू से ही एनडीए में विखराव दिख रहा था. बीजेपी के पोस्टर से नीतीश गायब हो गए थे. बिहार के लोगों ने मिसाल देश के सामने मिसाल पेश की है. लोगों ने बता दिया कि  सिर्फ आसमान में दिखने वाले मुद्दों पर चुनाव नहीं होगा जनता की रोजी रोटी की बात करने वाले को वोट दिया जाएगा.

वहीं, राजद सांसद व प्रवक्ता मनोज झा ने कहा कि इस चुनाव का एजेंडा विपक्ष ने तय किया. रोजगार जैसे मुद्दों पर सत्ता पक्ष को मजबूरन अपनाना पड़ा. महागठबंधन ने जो घोषणा की है बिहार के लोगों को सरकार में आने के बाद सुविधा देने की वह पूरा किया जाएगा. जनता ने प्रचंड बहुमत मतदान के माध्यम से महागठबंधन को बहुमत दिया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here