सुरेन्द्र द्विवेदी, अधिवक्ता,पटना हाईकोर्ट

पटना.कोरोना वायरस को लेकर बिहार समेत पूरे देश की तमाम अदालतों में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सुनवाई की जा रही है वाबजूद इसके बिहार की अदालतों में मुकदमों की सुनवाई और उसके निष्पादन पर इसका कोई खास प्रभाव नही पड़ा है.
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पटना हाई कोर्ट समेत पूरे राज्य की निचली अदालतों मे 16 मार्च से लेकर 31 जुलाई तक की अवधि तक कुल अस्सी हजार तीन सौ इक्यावन मामलों को निष्पादित किया गया है. जबकि दायर होने वाले मुकदमों की कुल संख्या एक लाख छतीस हजार तीन सौ तैंतीस है.
इन मामलों की फाइलिंग और सुनवाई दोनों माध्यमों फिजिकल और वर्चुअल दोनों से की गई है.इन मामलों में सिविल और आपराधिक दोनों तरह के मामले शामिल हैं.

इस अवधि में पटना हाई कोर्ट में दोनों माध्यमों को मिलाकर कुल छह हजार दो सौ चौहत्तर मुकदमे
दायर किये गए .वाबजूद उसके हाई कोर्ट द्वारा नए और पुराने दोनों मामले जिसमें आपराधिक ,रिट और सिविल को मिलाकर कुल छब्बीस हजार चार सौ सन्तानबे मामलों पर सुनवाई की गई और तेरह हजार छह सौ नये मामलों को निष्पादित किया गया.

उसी प्रकार बिहार की सभी निचली अदालतों को मिलाकर कुल एक लाख तीस हजार मामले दायर किये गए .इन मामलों में एक लाख सतरह हजार तीन सौ अठारह मामलों की सुनवाई पूरी कर छियासठ हजार सात सौ बयालीस मामलों में आदेश पारित कर उन्हें निष्पादित किया गया है.अगर स्थिति सामान्य रहती तो मुकदमों के दायर होने और उसके निष्पादन की संख्या और बढ़ती.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here