कोविड-19 संक्रमण की स्थिति से निपटने के लिए स्वास्थ्य सुविधाओं को लेकर जिला पदाधिकारी ने की बैठक

महेंद्र पाण्डेय की रिपोर्ट

बिहारशरीफ, 11 जुलाई। नालंदा जिले में कोविड-19 संक्रमण की स्थिति से निपटने के लिए आवश्यक स्वास्थ्य सुविधाओं को लेकर आज जिला पदाधिकारी योगेंद्र सिंह ने स्वास्थ्य विभाग के पदाधिकारियों एवं अन्य संबंधित पदाधिकारियों के साथ बैठक की।

स्वास्थ्य विभाग के आदेश के आलोक में वर्धमान आयुर्विज्ञान संस्थान पावापुरी में 100 बेड क्षमता वाले स्पेशल कोविड केयर सेंटर बनाया जा रहा है। इस सेंटर में नालंदा, शेखपुरा एवं नवादा जिले के कोविड-19 के क्रिटिकल मरीजों का इलाज किया जाएगा। जिला पदाधिकारी ने विम्स के अधीक्षक एवं मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य को विभागीय मानक संचालन प्रक्रिया के अनुरूप कोविड केयर सेंटर में सारी व्यवस्था सुनिश्चित करने का निर्देश दिया।
जिला में कोविड-19 पॉजिटिव सामान्य लोगों के लिए बीड़ी श्रमिक अस्पताल बिहार शरीफ एवं डाइट नूरसराय में आइसोलेशन सेंटर बनाया गया है।
दोनों आइसोलेशन सेंटर पर साफ सफाई एवं भोजन की उपयुक्त व्यवस्था सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया गया। सिविल सर्जन को प्रतिदिन एक आइसोलेशन सेंटर का व्यक्तिगत भ्रमण कर व्यवस्थाओं का जायजा लेते रहने का निर्देश दिया गया। जिला स्तरीय नियंत्रण कक्ष के माध्यम से भी दोनों केंद्रों पर आवासित लोगों से दूरभाष के माध्यम से संपर्क कर साफ-सफाई, भोजन एवं चिकित्सीय सुविधा के बारे में फीडबैक प्राप्त करने को कहा गया।
जिला में रैपिड टेस्ट किट के माध्यम से भी जांच की जाएगी। इसके लिए रैपिड टेस्ट किट जिला में उपलब्ध कराया गया है। जिला पदाधिकारी ने मानक संचालन प्रक्रिया के अनुरूप जांच की कार्रवाई सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया।
बैठक में उप विकास आयुक्त, नगर आयुक्त, आपदा शाखा प्रभारी, विम्स के अधीक्षक एवं प्राचार्य, सिविल सर्जन, जिला योजना पदाधिकारी, डीपीएम, केयर इंडिया के प्रतिनिधि सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here