UP Board 10th 12th Result 2020 Live Updates: यूपी बोर्ड हाईस्कूल और इंटर रिजल्ट जारी कर दिया गया है। उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने लखनऊ स्थित लोकभवन के मीडिया सेंटर से नतीजों ( up board high school and intermediate result 2020 ) की घोषणा की। 10वीं में 83.31 फीसदी और 12वीं में 74.63 फीसदी स्टूडेंट्स पास हुए हैं। हाईस्कूल (10वीं) में बड़ौत-बागपत की रिया जैन ने 96.67 फीसदी मार्क्स के साथ टॉप किया है। जबकि इंटरमीडिएट (12वीं) में बड़ौत-बागपत के अनुराग मलिक ने 97% मार्क्स के साथ टॉप किया है। 10वीं और 12वीं के टॉपर एक ही स्कूल (श्री राम एस एम इंटर कॉलेज, बड़ौत) से हैं। इस वर्ष 10वीं और 12वीं दोनों का रिजल्ट पिछले साल से अच्छा रहा है।

दोनोें कक्षाओं में लड़कियों का रिजल्ट लड़कों से बेहतर रहा है। इस बार टॉपर्स को एक लाख रुपये और लैपटॉप का पुरस्कार दिया जाएगा।

10वीं के टॉपर

रैंक नाम अंक व फीसदी स्कूल
1 रिया जैन 580- 96.67 फीसदी श्री राम एसएम इंटर कॉलेज बड़ौत
2 अभिमन्यु वर्मा 575 95.83 फीसदी श्री साईं इंटर कॉलेज, लखपेराबाग बाराबंकी
3 योगेश प्रताप सिंह 572- 95.33 फीसदी सद्भावना इंटर कॉलेज, जीवल बाराबंकी
4 गौरव 569- 94.83 फीसदी चित्रगुप्त इंटर कॉलेज,मुरादाबाद
4 शोभित कुमार 569- 94.83 फीसदी अनुभव इंटर कॉलेज, कानपुर नगर
4 शिवानी वर्मा 569- 94.83 फीसदी सरदार सिंह कॉन्वेंट इंटर कॉलेज, महमूदाबाद
5 नितीश कुमार 568- 94.67 फीसदी श्री साईं इंटर कॉलेज, जैदपुर बाराबंकी
5 अंशिका बघेल 568 – 94.67 फीसदी एसडीएलबीएसएम एसवीजी इंटर कॉलेज, फतेहाबाद आगरा
5 हिमांशु विश्वकर्मा 568- 94.67 फीसदी एसबीएमआईसी रघवंशपुरम फतेहपुर
6 ऋषभ सिंह 567- 94.50 फीसदी रामरूप मेमो. इंटर कॉलेज, बुधनपुर
6 उज्ज्वल तोमर 567- 94.50 फीसदी श्री राम एसएम इंटर कॉलेज बड़ौत
6 निशांत पटेल 567- 94.50 फीसदी सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कॉलेज, फतेहपुर
6 दीक्षा पांडेय 567- 94.50 फीसदी कार्मेल इंटर कॉलेज, महराजगंज
7 अर्पित यादव 566- 94.33 फीसदी अर्चना मेमोरियल एसजीएम इंटर कॉलेज, इटावा
7 अर्पित वर्मा 566 – 94.33 फीसदी प्रतिभा इंटर कॉलेज, देवा बाराबंकी
7 काजल 566- 94.33 फीसदी जेके इंटर कॉलेज तामसी हाथरस
7 आस्था श्रीवास्तव 566- 94.33 फीसदी न्यू आदर्श शिक्षा निकेतन इंटर कॉलेज मरई बाग दलमऊ
7 दीपिका 566- 94.33 फीसदी मा नारायणी इंटर कॉलेज, जसवंत नगर इटावा
8 नमन 565- 94.17 फीसदी एमआरडीआईसी दौलतपुर छिबिया, इलाहाबाद
8 अंकित अग्निहोत्री 565 – 94.17 फीसदी एसएसआईसी मुस्तफापुर हुसैनगंज फतेहपुर
8 आकाश रावत 565- 94.17 फीसदी पॉयनियर मोंटेसरी हाई स्कूल, एसपी नगर बाराबंकी
8 श्रृष्टि 565- 94.17 फीसदी ब्रिज बिहारी सहाई इंटर कॉलेज शिवकुटी प्रयागराज
8 भानवी द्विवेदी 565- 94.17 फीसदी एसबीएमआईसी रघवंशपुरम फतेहपुर
9 शोभित वर्मा 564- 94.00 फीसदी एसजेपी अग्रवाल स्मारक इंटर कॉलेज, अलीगढ़
9 रोशन चौरसिया 564 – 94.00 फीसदी वीपीएसएम आईसी भींड, प्रतापगढ़
9 अंकुश दुबे 564 सरस्वती वीएम आईसीजेके कादीपुर सुल्तानपुर
9 आकाश कुशवाहा 564- 94.00 फीसदी एस भगवान राम उम्मीद सिंह एचएस नगलाबेल आगरा
9 अलीशा अंसारी 564- 94.00 फीसदी बाल निकुंज इंटर कॉलेज, श्री नगर मोहिपुल्लापुर मडियो
9 गार्गी यादव 564- 94.00 फीसदी बृजबिहारी सहाई इंटर कॉलेज, शिवकुटी प्रयागराज
10 अरशद इकबाल 563- 93.83 फीसदी पंडित आरएन एमएचएसएस अल्लाहगंज शाहजहांपुर
10 वैशाली शर्मा 563- 93.83 फीसदी वीना पानी इंटर कॉलज मलिक मऊ रायबरेली
10 अरशिमा शेख 563 – 93.83 फीसदी सेंट जेवियर स्कूल नारामऊ मनधाना कानपुर
10 अलका सिंह 563 – 93.83 फीसदी, सेंट इंटर कॉलेज सिकारो कोराओन इलाहाबाद

12वीं के टॉपर
रैंक 1- अनुराग मलिक – 97 फीसदी मार्क्स – श्री राम एस एम इंटर कॉलेज, बड़ौत-बागपत
रैंक 2- प्रांजल सिंह – 96 फीसदी मार्क्स – एसपी इंटर कॉलेज सिकारो कोरांव, प्रयागराज
रैंक 3- उत्कर्ष शुक्ला, 94.80 फीसदी मार्क्स – श्री गोपाल इंटर कॉलेज, औरैया

रैंक 4- वैभव द्विवेदी, – 94.40 फीसदी, ब्रिलियंट एकेंडमी इंटर कॉलेज, उन्नाव
रैंक 5- अकांक्षा, 94 फीसदी मार्क्स, श्री विश्वनाथ इंटर कॉलेज, सुल्तानपुर
रैंक 6 – गरिमा कौशिक, 93.80 फीसदी मार्क्स, श्री राम इंटर कॉलेज, बड़ौत
रैंक 7 – पूजा मौर्या – 93.60, धर्मा देवी बद्री प्रसाद एस आई सी कुरवार, सुल्तानपुर
रैंक 8- अंकुश राठौर, 93.00 फीसदी मार्क्स, पंडित दीन दयाल उपाध्याय एसवीएम इंटर कॉलेज
रैंक 8 – मनु मिश्रा – 93.00 फीसदी मार्क्स, जय मां एसजीएम आईसी राधा नगर, फतेहाबाद
रैंक 9 – केशव, 92.80 फीसदी मार्क्स- लखनऊ पब्लिक कॉलेज, राजाजीपुरम, लखनऊ
रैंक 10 – रिद्धिमा – 92.60 फीसदी मार्क्स – त्रिवेणी काशी इंटर कॉलेज बिहार उन्नाव

– 10वीं में लड़कों का पास प्रतिशत 79.88 रहा जबकि लड़कियों का पास प्रतिशत 87.29 रहा।
– 12वीं में लड़कों का पास प्रतिशत 63.88 रहा जबकि लड़कियों का पास प्रतिशत 91.96 रहा।

– यूपी बोर्ड 12वीं के टॉपर अनुराग ने हिन्दुस्तान से बातचीत में कहा कि मैनें बहुत मन से पढ़ाई की थी। इसमें मेरे अध्यापकों के साथ साथ परिजनों का भी बहुत योगदान रहा। अनुराग ने इस सफलता के बाद भगवान का धन्यवाद देते हुए कहा कि मेरे साथ साथ परिजनाें ने भी बहुत मेहनत की थी। पढ़ाई के दौरान मेरा ध्यान रखा। कब क्या पढ़ाना है इसका पूरा टाइम टेबल बनाया।

– प्रेस कॉन्फ्रेंस में दिनेश शर्मा ने कहा कि पहली बार डिजिटल प्रमाणपत्र व अंकपत्र दिए जाएंगे। 3 दिन के अंदर अंकपत्र मिलेंगे। 15 व 30 जुलाई के आसपास सॉफ्टकॉपी मिलने लगेंगी अंकपत्र की।

– टॉपर्स को एक लाख और लैपटॉप देंगे।

– इस बार हमने टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया। कॉलसेंटर था। हेल्पलाइन, टि्वटर, भी सक्रिय रहे। चार रंगों की कॉपियां भेजीं। उनमें कोडिंग थी। परीक्षा ड्यूटी को मोबाइल ऐप से लगाया गया।

– इस वर्ष की परीक्षा में इंटरमीडिएट में भी कम्पर्टमेंट परीक्षा का प्रावधान किया जा रहा है। यानी इंटर वालों को भी कंपार्टमेंट परीक्षा में बैठने का मौका मिलेगा।

– पहले डेढ़ महीने में परीक्षा होती थीं। अब 15 दिन में खत्म होती है। पहले आधा आधा ट्रक नकल सामग्री पकड़ी जाती थी। सामूहिक नकल होती थी।

– उपमुख्यमंत्री ने कहा, ‘हमने एनसीईआरटी का कोर्स लागू किया। यूपी में ढाई साल में शैक्षिक क्रांति आई इससे। उनकी किताबें उपलब्ध कराईं। वेबसाइट पर किताबों के मूल्यों का अंकन किया। सरकारी स्कूलों में सही दामों में किताबों का इंतजाम किया। 15- 20 साल पहले से सस्ते दामों में किताबें मिल रही हैं और पाठ्यक्रम बेहतर हुआ।’

– डॉ. दिनेश शर्मा ने कहा कि प्रदेश में 52 लाख विद्यार्थियों ने परीक्षा दी थी। परीक्षाफल समय से जारी करना सपना था। कठिन परिस्थितियों में परीक्षा करवाईं। 21 दिनों में कॉपियां जांचना और जल्दी परीक्षाफल घोषित करना महालक्ष्य था। रिजल्ट पिछले वर्ष से बेहतर है। दस महीने पहले ही स्कीम दी थी। परीक्षा 12 से 15 दिन में करवाईं। साथ में हमने प्रश्नपत्रों के मॉडल अपलोड किए थे। टोल फ्री हेल्पलाइन लगवाई। नकलविहीन परीक्षा के लिए 95 हजार परीक्षाकक्ष थे। एक लाख से ज्यादा सीसीटीवी कैमरे राउटर के साथ लगे। हर परीक्षा कैन्द्र व जिले व राज्य स्तर पर मॉनिटरिंग सेंटर बने।

इस बार 10वीं-12वीं की परीक्षा एक साथ 18 फरवरी को शुरू हुई थीं। 10वीं की परीक्षा 3 मार्च जबकि इंटर की परीक्षा 6 मार्च को समाप्त हुई थी। इस बार कोरोना वायरस संक्रमण के चलते मूल्यांकन कार्य बाधित हुआ। इसलिए परीक्षा परिणाम एक माह देरी से जारी हुआ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here