ऑस्ट्रेलिया ने सलामी बल्लेबाज बैथ मूनी और एलीसा हीली के अर्धशतक के बाद मेगन शूट की अगुआई में शानदार गेंदबाजी की बदौलत रविवार को आईसीसी महिला टी20 विश्व कप के फाइनल में भारत को 85 रन से हराकर पांचवीं बार ट्रॉफी अपने नाम की। अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के दिन खेले गए मुकाबले में ऑस्ट्रेलियाई टीम छठी बार फाइनल में पहुंची थी। भारतीय टीम को भले ही फाइनल में हार मिली हो लेकिन इसके बाद भी टीम को लगभग 3 करोड़ 70 लाख रुपए की प्राइज मनी मिली जो विजेता के रकम की आधी राशि है। विजेता बनने पर ऑस्ट्रेलिया टीम को लगभग एक मिलियन डॉलर यानी 7 करोड़ 40 लाख रूपए मिले।

ऑस्ट्रेलिया ने एमसीजी पर टॉस जीतकर बल्लेबाजी करते हुए मूनी (नाबाद 78) और हीली (75 रन) के अर्धशतकों से चार विकेट पर 184 रन बनाए।

इसके बाद उसकी गेंदबाजों ने भारतीय टीम को 19.1 ओवर में महज 99 रन पर समेट दिया जो पहली बार इसके फाइनल में पहुंची थी। ऑस्ट्रेलिया के लिए मेगन शूट ने 3.1 ओवर में 18 रन देकर चार विकेट और जेफ जोनासेन ने चार ओवर में 20 रन देकर तीन विकेट झटके।

सोफी मोलीनेक्स, डेलिसा किमिन्सी और निकोला कारे ने एक एक विकेट हासिल किया। कंगारू टीम का यह पांचवां टी-20 खिताब है। टीम ने इससे पहले 2010, 2012, 2014, 2018 में खिताब जीता था जबकि 2016 में उसे फाइनल में वेस्टइंडीज से हार मिली थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here